19 साल की बहन को चोदा

0
Loading...

प्रेषक : रजनीकांत …

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम रजनीकांत है और में कामुकता डॉट कॉम का बहुत लंबे समय से चाहने वाला हूँ, मुझे इसकी ज्यादातर कहानियाँ पढ़ना बहुत अच्छा लगता है और आज में आप सभी को अपनी एक वैसी ही एक सच्ची कहानी सुनाने जा रहा हूँ, जिसको पढ़ने के बाद शायद आप सभी को बहुत मज़ा आएगा। दोस्तों में अहमदाबाद का रहने वाला हूँ और यह कहानी कुछ समय पहले की है। यह मेरी और मेरी कज़िन बहन की है और उसकी उम्र लगभग 19 साल की होगी, लेकिन उस समय उसके बूब्स इतने बड़े थे कि एक हाथ में उसका एक बूब्स पकड़ना बहुत मुश्किल था और उसकी गांड और में उसके जिस्म की पूरी तारीफ शब्दों में नहीं कर सकता, लेकिन में उस समय में हमेशा उसको घूरता रहता था, क्योंकि में उस समय उनके घर पर ही रहता था और जब भी घर का कोई काम करती झाड़ू लगाती तो उसके बड़े बड़े बूब्स के मुझे दर्शन हो जाते या फिर जब वो खाना बनाती तो उसके आधे आधे बूब्स उसके आधी बाहं के कपड़ो से नजर आते या फिर जब वो पोछा लगाती तो मुझे उसके बूब्स की हल्की सी झलक दिखती जिसे देखकर में बहुत खुश हुआ करता था और वैसे भी दोस्तों उसके क्या टाईट और बड़े गोल गोल बूब्स थे।

तो में हमेशा बाथरूम में जाकर उसके नाम की मुठ ज़रूर मारा करता था और फिर जब एक दिन आंटी घर पर नहीं थी तो में बिना चिंता किये अपने मोबाईल पर ब्लूफिल्म देख रहा था और तभी वो भी मेरे पीछे से आकर फिल्म देखने लगी और जब मैंने पीछे की तरफ मुड़कर देखा तो उसकी एक उंगली उसकी चूत के ऊपर थी, शायद वो अपनी चूत को सहला रही थी और वो ठीक मेरे पीछे की तरफ खड़ी हुई थी और में उसे देखकर एकदम हैरान हो गया और फिर वो बिना कुछ कहे अपने रूम में चली गयी और में जब उसके पीछे तो मैंने देखा कि उसके कमरे का दरवाजा अंदर से बंद कर लिया, लेकिन दरवाजा अंदर से बंद पाकर में बाहर चला गया। तो बाहर आकर मैंने देखा कि सड़क की साईड में कुछ लड़के क्रिकेट खेल रहे थे और में दूर खड़ा हुआ अपना मुरझाया हुआ लंड लेकर उन्हे देख रहा था। तो इतने में बॉल आकर मेरी बालकनी में आ गिरी और उसी बालकनी में मेरी बहन का रूम था और फिर में बालकनी में गया और मैंने वो बॉल उन्हे दे दी, लेकिन जब में वहां से नीचे आ रहा था तब मैंने रूम के अंदर से कुछ अजीब अजीब आवाजें सुनी और तब मैंने दरवाजे के होल से अंदर की तरफ देखा तो वो अपने कपड़े उतार कर अपनी चूत में एक उंगली को अंदर बाहर कर रही थी। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है

Loading...

यह सब देखकर मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया और मैंने अपने मोबाइल में उसकी एक फोटो खींच ली और में कुछ देर के बाद बाथरूम में जाकर मुठ मारने लगा और करीब एक घंटे बाद वो रूम में से बाहर आई और उस समय तक आंटी भी आ गई थी और उसके बाद में क्या था? में हमेशा उसका वो फोटो देखकर मुठ मारता रहा। तो एक दिन की बात है। जब मेरी आंटी और अंकल कुछ दिनों के लिए अपने शहर से बाहर चले गये। तो उस दिन में और बहन हम दोनों ही घर पर थे, में उसके पास गया और उसे वो फोटो दिखाकर डराने लगा और उससे कहने लगा कि में अब यह फोटो आंटी को दिखा दूँगा। तो वो मेरी यह बात सुनकर बहुत डर गई और ज़ोर ज़ोर से रोने लगी और वो मुझसे कहने लगी कि प्लीज भैया आप ऐसा मत करना, वर्ना पापा तो मुझे मार ही डालेंगे। तो मैंने उससे कहा कि ठीक है में नहीं कहता, लेकिन उसके लिए तुम्हे मेरी एक शर्त माननी पड़ेगी और फिर उसने जल्दी से कह दिया कि आप जो कहोगे में सब कुछ वो करूँगी, लेकिन प्लीज आप मेरी यह बात किसी को मत कहना। तो झट से मैंने उसको अपना फोन उसे दिया और उसमे ब्लूफिल्म चालू करके उससे बोला कि आज हम यह सब करेंगे। तो उसने तुरंत मुझे ज़ोर से अपनी बाहों में भर लिया और कहा कि इन सब के लिए तो में कब से तैयार हूँ और में आपको मेरे बूब्स दिखाना और अपनी तरफ आकर्षित करना इसी के लिए तो कर रही थी, लेकिन आप ही इतने दिनों से समझ नहीं पाए।

Loading...

दोस्तों उसके मुहं से यह सब बातें सुनकर मुझे मेरे कानो पर बिल्कुल भी विश्वास नहीं हो रहा था, क्योंकि अब तक में जिसका नाम लेकर हमेशा मुठ मारता था। में आज उसे चोदने वाला हूँ। फिर उसने कहा कि आप रूम में तैयारी करो, में आधे घंटे में नहाकर आती हूँ और फिर वो बाथरूम में चली गई और में रूम जाकर बैठा हुआ था और बड़ी बेसब्री से उसका इंतजार कर रहा था। तो वो कुछ देर बाद नहाकर बाथरूम से सिर्फ़ टावल में मेरे सामने आकर खड़ी हो गयी, में तो उसको देखकर एकदम पागल सा हो गया और मैंने उसे अपनी बाहों में भर लिया और उसके होंठो पर किस करने लगा और वो किस करीब 15 मिनट तक चला। फिर कुछ देर बाद मैंने उसको अपनी बाहों में लेकर बेड पर लेटाया और टावल खोल दिया और तभी मेरे मुहं से वाह सेक्सी शब्द निकल गया। उसके गोल गोल बूब्स देखकर मेरा लंड तो मानो लोहे के सरिए के जैसा हो गया और मैंने देखा कि उसकी चूत पर हल्के हल्के बाल थे। तो मैंने अपने कपड़े झट से उतार दिए और उसके ऊपर लेट गया और उसे किस करने लगा, थोड़ा नीचे आकर उसकी चूत खोली और चूत के गुलाबी हिस्से को चाटने लगा। में उसकी चूत को ऐसे चाट रहा था, जैसे कोई बच्चा आईसक्रीम चाट रहा हो और वो मचल रही थी और अब धीरे धीरे उसकी आखें बंद हो रही थी।

फिर में उसकी गांड में उंगली डालकर हिलाने लगा और वो दर्द की वजह से मचल रही थी और ज़ोर ज़ोर से चिल्ला रही थी। फिर में उसको बेड के आखरी में लाया और मैंने अपना लंड उसके मुहं में दे दिया और वो मानो लोलीपोप की तरह मेरे लंड को चूस रही थी और आआहह आहह उह्ह्ह्हह्ह्ह्हह्ह सिसकियाँ लेने लगी और अब वो धीरे धीरे अपनी स्पीड को बड़ाती गई। फिर हम 69 पोज़िशन में आ गये और एक दूसरे का चूसने चाटने लगे। करीब 15 मिनट के बाद हम दोनों एक एक करके झड़ गये और 10 मिनट तक हम एक दूसरे के ऊपर ऐसे ही लेटे रहे। फिर मैंने उसको किस करना शुरू किया और वो मेरे लंड को सहलाने चाटने लगी तो मेरा लंड अब फिर से धीरे धीरे खड़ा होने लगा था तो में उसको मिशनरी पोज़िशन में लाया और उसकी चूत पर लंड को रखकर उसको सहलाने लगा, वो चिल्ला रही थी और कह रही थी प्लीज डालो ना क्या कर रहे हो? में उसको और तड़पा रहा था।

फिर मैंने एक झटका मारा और मैंने लंड को चूत के अंदर घुसा दिया और ज़ोर ज़ोर से धक्के देने लगा। तो वो चिल्ला रही थी कि प्लीज धीरे करो मेरा यह पहली बार है अहहअहहअह उह्ह्ह्ह प्लीज थोड़ा धीरे करो अईईईईईईइ। तो में धीरे धीरे झटके मारकर लंड को अंदर बाहर करने लगा और अब उसका दर्द थोड़ा कम होने के बाद में लगातार 20-30 झटके मार रहा था, लेकिन इस बीच वो एक बार झड़ चुकी थी और अब मेरा भी आने वाला था। फिर मैंने उसको उठाया और मुहं में लंड देकर चूसने लगा और फिर 5 मिनट बाद में भी झड़ गया ऊऊफफफफ्फ़। यह मेरा पहला सेक्स अनुभव था इसलिए में उसे आज भी सोचकर गर्म हो जाता हूँ। फिर हम दोनों बाथरूम में जाकर नहाने लगे और वो मेरा लंड फिर से सहलाने लगी और में उसकी चूत चाट रहा था और उसकी गांड पर मैंने साबुन लगाया तो उसने पूछा कि यह क्या कर रहे हो? तो मैंने कहा कि अब तेरी गांड की बारी है और वो डर गयी और कहने लगी कि इतना लंबा लंड कैसे जाएगा? फिर उसको बहुत समझाकर मैंने धीरे धीरे उसकी गांड मारनी शुरू कर दी। दोस्तों कितना भी चूत में लंड डालो, लेकिन असली मज़ा तो गांड में ही है और मैंने करीब 20 मिनट तक जोरदार धक्के देकर उसकी गांड मारी और वो दर्द से बेहाल होकर मुझसे लंड को बाहर करने को कहती रही, लेकिन में बिना कुछ सुने उसे चोदता रहा ।।

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


hindi font sex storiessexstori hindihindi katha sexsexy stroihindi sex storey comsex stori in hindi fonthindi sexy storisechodvani majasex hindi sexy storysagi bahan ki chudaisex kahaniya in hindi fontchut land ka khelhindi sexstoreissexy story in hundisexy new hindi storychachi ko neend me chodaindian hindi sex story comsex hindi font storysexi stroyteacher ne chodna sikhayahindi sex kahani hindisexy stoies in hindihindi sexy stroessexy stotihindhi sex storihindi saxy storyhindi sax storesex story in hindi downloadsexy story hindi mehindi sexy stroynind ki goli dekar chodasex story of hindi languagehindi sex historywww hindi sex story cohindi sex storysex hinde storestore hindi sexhindi sexy stoiressaxy store in hindihindi sex katha in hindi fontfree hindi sexstorysex store hendihindi sexy story in hindi languagebhai ko chodna sikhayahindi font sex kahanisexy story in hindoindian sexy stories hindisexi khaniya hindi mehinde sexi kahanisex stories hindi indiaadults hindi storiesdesi hindi sex kahaniyansex story hindusexy sotory hindihindi sexy stoeysex st hindisaxy story audiohindi sexy stpryhindisex storiymami ki chodisexy stroihindi sexy storueswww sex storeyhindi sex kahani hindi mesexy story hundisexi kahania in hindifree sex stories in hindihindu sex storihindisex storisagi bahan ki chudaiankita ko chodahindi sex story hindi languagesex hindi sex storysexi storijhindi sexy storyhindhi sexy kahanisexy striessx storyssaxy hindi storyswww sex story in hindi comhindi sex kahani hindi fontsexstorys in hindikamukta audio sexsaxy story audiohindi sexy sotorihindi sex story sexhindi sex storesexy story in hindi font